Zara Hatke Zara Bachke Review: सरकारी योजनाओं में धांधली की पोल खोलती फिल्म

deepak mehra
7 Min Read

Zara Hatke Zara Bachke moive review :-

Movie Review : जरा हटके जरा बचके 

कलाकार : विकी कौशल , सारा अली खान , इनामुल हक , नीरज सूद , राकेश बेदी , सुष्मिता मुखर्जी , शारिब हाशमी और आदि

लेखक : मैत्रेय बाजपेयी और रमीज इलहाम खान

निर्देशक : लक्ष्मण उतेकर

निर्माता : दिनेश विजन और ज्योति देशपांडे

रिलीज : 02 जून 2023

रेटिंग : 2/5

फिल्म ‘जरा हटके जरा बचके’ इंदौर जैसे देश के सबसे साफ सुथरे शहर में अपना खुद का घरौंदा बनाने को बेचैन एक नवविवाहित दुबे दंपती की कहानी है। शादी के पहले का पूरा प्यार दोनों निर्देशक राहुल रवैल की फिल्म ‘लव स्टोरी’ (1981) के एक गाने के जरिये जी लेते हैं और सीधे आते हैं वहां जहां इनको सुकून के ‘दो पल’ वाली रात की बेसब्री से तलाश है। तय होता है कि दोनों माता पिता से अलग रहेंगे। बिल्डरों के विज्ञापनों की जमीनी हकीकत दिखाने के बाद कहानी मुड़ती है जन आवास योजना की तरफ। अगर आपने बीते चार पांच साल में देश के गांवों का भ्रमण किया है तो आपको पक्के मकानों की इतनी कतारें दिखेंगी कि आप अपने घर का रास्ता भी भूल सकते हैं। पात्र अपात्र लोगों को बंटी इन कॉलोनियों का फोरेंसिक ऑडिट बहुत बड़े घोटाले का राज खोल सकता है। और, यही होता है फिल्म ‘जरा हटके जरा बचके’ में।

zara hatke zara bachke movie review

कहीं तो कहीं चूकीं सारा अली खान

निर्माता दिनेश विजन की दाद देनी होगी कि फिल्म ‘जरा हटके जरा बचके’ में कृति सैनन न तो हीरोइन हैं और न ही उनका कोई डांस नंबर ही फिल्म में रखा गया है। ग्लैमर का सोलो ठेका यहां सारा अली खान पर है। और, रंग बिरंगी साड़ियां, गले में मंगलसूत्र, माथे पर सिंदूर और कार्डिगन पहने दुबे परिवार के बहू के रूप में वह लगी भी बहुत खूबसूरत हैं। कहानी का ट्विस्ट आने के बाद हालांकि वह सलवार सूट और दूसरे परिधानों में चली जाती हैं, लेकिन सारा का जो असर साड़ी में हैं वह किसी और में नहीं। हां, अभिनय भी उनका निखर रहा है। बस जब गुस्सा होने और अंतरंग दृश्यों में चेहरे पर सही भाव लाने की बारी आती है, उनकी चेहरे की मांसपेशियां उनका साथ छोड़ जाती हैं। फिल्म के बाकी महिला किरदारों में विकी की मां और मामी बनी कलाकारों के अलावा सुष्मिता मुखर्जी ने भी अपने हिस्से का काम अच्छे से किया है।

jara hatke jara bachke, sara ali khan, vickey kaushal

बेअसर रहे विकी कौशल
विकी कौशल का किरदार उनकी ओटीटी पर रिलीज पिछली फिल्म ‘गोविंदा नाम मेरा’ का ही एक्सटेंशन नजर आता है। जनेऊ पहनकर गुसलखाने में नहाते विकी कौशल का शरीर सौष्ठव उनके कुछ बड़ा एक्शन फिल्म में कराएगा, ऐसा आभास लक्ष्मण उतेकर एक दो बार देते हैं, लेकिन ऐसा कुछ कहीं खास होता नहीं है। फिल्म की कहानी का सारा एक्शन सारा अली खान के पास है और विकी कौशल की भूमिका बस उनके सामने एक सहायक कलाकार जैसी है। पूरी फिल्म में हीरो जैसा अगर वह कुछ करते हैं तो वह है सरकारी आवास योजना में अपनी पूर्व पत्नी को मिले मकान को सोसाइटी के चौकीदार को सौंप देने का। और, तरस आता है फिल्म के लेखकों पर जिन्हें ये नहीं पता कि किसी भी सरकारी आवास योजना में मिला मकान लाभार्थी यूं ही किसी और को नहीं दे सकता। उसके हाउस लोन की ईएमआई किसी और से भरवाना तो बहुत दूर की बात है। आकाश खुराना, राकेश बेदी और नीरज सूद पुरुष टीम की तरफ से बैटिंग करने वाले काबिल सितारे हैं। खासतौर से घर जमाई बनकर रह रहे अपने किरदार में पत्नी के अस्पताल में भर्ती होने के बाद वाले दृश्य में नीरज सूद ने फिल्म को जबर्दस्त भावुक सहारा दिया है। लेकिन, फिल्म में सबसे ज्यादा ध्यान खींचने अभिनय अगर किसी कलाकार ने किया है तो वह हैं इनामुल हक। दिन में चपरासी बनने और रात में चांदी काटने वाले किरदार में इनामुल ने फिल्म ‘जॉली एलएलबी 2’ के बाद फिर प्रभावित किया है। Zara Hatke Zara Bachke

प्रभास की ‘Project K’ में कमल हासन! 5 Bollywood Stars

हिट विकेट हो गए कप्तान

लक्ष्मण उतेकर को ये फिल्म बनाने के लिए सलाम करने को मन करता है। गिनती के लोग बचे हैं सिनेमा में जो वर्तमान पर नजर बनाए हुए हैं और बजाय किसी पूर्वाग्रह के सीधे एक घटना को निष्पक्ष नजरिये से पेश करने की कोशिश करते हैं। कहानी उनकी अच्छी है। पटकथा बेहतर है और इंदौरी लहजे के कलाकारों के संवाद बहुत ही बढ़िया हैं। हां, फिल्म खटकती है उन छोटी छोटी गलतियों और लंबे लंबे दृश्यों की वजह से जो सिर्फ फिल्म की लंबाई बढ़ाने के लिए लिख दिए गए हैं। और, ये कमी बतौर कप्तान उनकी ही मानी जाएगी। कहानी पर 90 मिनट की फिल्म शानदार बनती और बिना इंटरवल ऐसी किसी फिल्म को देखने दर्शक भी सिनेमाघर में खूब आते। बेमतलब के दृश्यों और अटपटे संवादों ने फिल्म  का मजा किरकिरा कर दिया है क्योंकि इनके चलते फिल्म न तो पूरी तरह से कॉमेडी फिल्म बन पाती है और जिस लव स्टोरी के तौर पर इसका प्रचार किया गया, उस पर यह खरी उतरती नहीं है। राघव रामदॉस की सिनेमैटोग्राफी ने फिल्म को इंदौर की टूरिज्म फिल्म बनाने में कसर नहीं छोड़ी है अमिताभ भट्टाचार्य के लिखे और सचिन जिगर के संगीतबद्ध किए गाने बेहतर हैं। खास तौर से अरिजीत का गाया गाना ‘तू है तो मुझे फिर और क्या चाहिए’ कमाल है।

IIFA Awards Bollywood Fashion- नोरा फ़तेहि, कृति सेनोन, जैकलिन फर्नॅंडेज़, और इन हसीनाओं का दिखा ग्लैमरस अंदाज

FAQ :-

  1. Zara Hatke Zara Bachke release date

    2 June 2023.

  2. Zara Hatke Zara Bachke Movie cast

    Vicky kaushal, Sara ali khan, Rakesh bedi, Inaamulhaq, Neeraj sood, Meghna agrawal.

  3. zara hatke zara bachke ott release date

    Release on an OTT plateform in august 2023.

आप अपनी अनमोल राय हमें नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में कमेंट करके भी भेज सकते हैं। 

Share This Article
Follow:
deepak mehra
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *